Uttarakhand Saubhagyavati Yojana Apply, उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना ऑनलाइन आवेदन, Saubhagyavati Yojana Uttarakhand 2021, उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना एप्लीकेशन फॉर्म और अन्य जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। उत्तराखंड राज्य के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना की शुरुआत की है। इस योजना की घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री जी ने बताया कि, यह योजना गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू की गई है। उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 के तहत दो अलग-अलग किट बनाए जाएंगे जिनमें से एक किट गर्भवती महिलाओं के लिए होगा और दूसरा किट नवजात बच्चों के लिए तैयार किया जाएगा।

उत्तराखंड राज्य सरकार Uttarakhand Saubhagyavati Yojana  2021 के तहत राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं की साफ-सफाई एवं पोषण के लिए किट एवं कपड़े प्रदान करेगी। यदि आप भी Uttarakhand Saubhagyavati Yojana से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े| आज हम यहां आपको अपने इस लेख में उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना से संबंधित सभी जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान करेंगे, जैसे; योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया, आवश्यक दस्तावेज, पात्रता मानदंड आदि।

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021

उत्तराखंड सरकार ने गर्भवती महिलाओं को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के तहत उत्तराखंड सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं एवं उनके नवजात शिशु को लाभ प्रदान किया जाएगा एवं उनकी आवश्यकता को पूरा किया जाएगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी ने Uttarakhand Saubhagyavati Yojana  के तहत राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को साफ सफाई एवं पोषण के लिए एक किट तथा कपड़े प्रदान करने का निर्णय लिया है।

1-3-7093864

राज्य सरकार उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना का संचालन कुल 2 चरणों में करेगी जिनमें पहले चरण में गर्भवती महिलाओं को लाभ प्रदान किया जाएगा एवं दूसरे चरण में नवजात शिशु को लाभ प्रदान किया जाएगा। सरकार इस किट में स्थानीय पहनावे एवं मौसम के अनुसार वस्त्र प्रदान करेगी। इतना ही नहीं उत्तराखंड राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को Uttarakhand Saubhagyavati Yojana 2021 के तहत बेहतर स्वास्थ्य के लिए आवश्यक पोस्ट भोजन भी प्रदान किया जाएगा। राज्य के जो भी इच्छुक व्यक्ति इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें Uttarakhand Saubhagyavati Yojana के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

Highlights of Uttarakhand Saubhagyavati Yojana 2021

योजना का नाम उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना
आरम्भ की गई मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा
वर्ष 2021
लाभार्थी गर्भवती महिलाएं और नवजात शिशु
पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन
उद्देश्य गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य और पोषण की देखभाल
लाभ पौष्टिक भोजन की उपलब्धता और देखरेख
श्रेणी उत्तराखंड सरकारी योजनाएं

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल निकालें

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना का उद्देश्य

गर्भावस्था एक ऐसी स्थिति है जहां गर्भवती महिलाओं को अधिक से अधिक स्वच्छता एवं पौष्टिक आहार की आवश्यकता होती है। परंतु कई बार ऐसा देखने को मिलता है कि परिवार की आर्थिक स्थिति की कमजोर होने के कारण महिलाओं को गर्भावस्था के समय भी अच्छे से पोस्टिक आहार नहीं मिल पाता। कई बार ऐसी स्थिति के चलते नवजात शिशु को भी कई बीमारियों का सामना करना पड़ता है या उनकी मृत्यु भी हो जाती है। इन्हीं समस्याओं के चलते राज्य सरकार ने उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 का शुभारंभ किया है जिसका मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड राज्य के गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशु को उचित स्वच्छता सुनिश्चित कराना एवं उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए आवश्यक पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराना है। सरकार का मानना है कि यह Uttarakhand Saubhagyavati Yojana 2021 मातृ मृत्यु दर के साथ-साथ शिशु मृत्यु दर में भी कमी लाएगी। इसके साथ ही यह योजना गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य एवं रहन सहन में निश्चित रूप से बदलाव लाने में सहायक होगी।

किट में गर्भवती महिलाओं और शिशु के लिए क्या होगा?

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा शुरू की गई Uttarakhand Saubhagyavati Yojana के तहत जल्द ही लाभार्थियों को लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत महिलाओं एवं नवजात शिशु को इस किट में पौष्टिक भोजन, सूखे मेवे, प्रसाधन और महिलाओं एवं उनके नवजात बच्चों के लिए कपड़े आदि वस्तुएं उपलब्ध कराई जाएंगी। उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 के तहत दो अलग-अलग प्रकार की किट उपलब्ध कराई जाएंगी जिनमें एक किट महिलाओं के लिए हो गई और दूसरी उनके नवजात शिशुओं के लिए। किट में शामिल कपड़े भी उत्तराखंड के पहनावे एवं वहां के मौसम स्थिति के अनुसार प्रदान किए जाएंगे।

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 का लाभ

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के कुछ मुख्य लाभ इस प्रकार है।

  • उत्तराखंड राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशु को Uttarakhand Saubhagyavati Yojana का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत राज्य के गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को उचित स्वच्छता सुनिश्चित की जाएगी एवं उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए आवश्यक पोष्टिक भोजन प्रदान किया जाएगा।
  • राज्य सरकार उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 के तहत राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशु को साफ सफाई एवं पोषण के लिए गिफ्ट एवं कपड़े प्रदान करेंगी।
  • इस योजना के संबंध में मुख्यमंत्री जी का कहना है कि स्वस्थ समाज के लिए गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं की बेहतर देखभाल करना आवश्यक है जो कि इस योजना के माध्यम से संभव होगा।
  • उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के तहत गर्भवती महिलाओं एवं उनके नवजात शिशु को रोजमर्रा के उपयोग की सामग्री आदि अलग-अलग पेट में तैयार कर प्रदान किए जाने की व्यवस्था की जाएगी।

महिलाओ के लिए किट में सामान की सूची

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 के तहत, राज्य की गर्भवती महिलाओं के कल्याण के लिए किट प्रदान किए जाएंगे, जिसमे उपलब्ध आइटम की सूची नीचे दी गयी है।

250 बादाम गिरी/सुखी खुमानी/अखरोट दो कॉटन गाउन/साड़ी/सूट
एक शॉल गर्म फुल साईज 500 ग्राम छुआरा
1 स्कॉर्फ कॉटन/गर्म स्टैंडर्ड साइज दो जोड़े जुराब स्टैंडर्ड साइज
एक तौलिया बड़े साइज का दो पैकेट सैनिटरी नैपकिन (आठ प्रति पैकेट)
दो जोड़े बेड शीट (तकिये के कवर सहित) एक नेल कटर
200 एम.एल हैण्डवाश लिक्विड एक नारियल/तिल/सरसों/चुलू का तेल
दो कपड़े धोने का साबुन दो नहाने का साबुन

नवजात बच्चों के किट में सामान की सूची

Uttarakhand Saubhagyavati Yojana में नवजात शिशुओं के लिए किट में निम्नलिखित सामान उपलब्ध होगा।

मौसम के अनुसार सूती या गर्म दो जोड़े शिशु के कपड़े, टोपी और जुराब सहित एक पैकेट (10 पीस) कॉटन डाइपर एक तेल
एक बेबी तौलिया कॉटन सॉफ्ट 1 पाउडर तीन बेबी साबुन
एक रबर शीट एक समस्त सामग्री पैक करने के लिए सूती बैग शामिल रहेगा दो बेबी ब्लैंककेट गर्म अथवा कॉटन (मौसम अनुसार)

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 पात्रता मानदंड

  • केवल गर्भवती महिलाएं एवं नवजात शिशु ही इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए गर्भवती महिला की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • उत्तराखंड राज्य का स्थाई निवासी ही उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के तहत आवेदन कर सकता है।
  • आयकर का भुगतान करने वाले सभी सरकारी कर्मचारियों के परिवार एवं आश्रित इस परियोजना के तहत शामिल नहीं होंगे।

आवश्यक दस्तावेज

Uttarakhand Saubhagyavati Yojana के तहत आवेदन करने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • गर्भवती महिला की आयु प्रमाण पत्र (जैसे जन्म प्रमाण पत्र या 10 वीं कक्षा की मार्कशीट)
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना आवेदन प्रक्रिया

यदि आप ही उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं और इसके लिए आप आवेदन प्रक्रिया देख रहे हैं तो आपको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा। अभी हाल ही में उत्तराखंड सरकार ने उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना को शुरू करने की घोषणा की है परंतु योजना को अभी शुरू नहीं किया गया है। मुख्यमंत्री जी की घोषणा के अनुसार जल्द ही इस योजना को शुरू कर दिया जाएगा। जैसे ही उत्तराखंड सरकार इस योजना को आरंभ करने के संबंधित एवं इसके आवेदन प्रक्रिया के संबंधित कोई जानकारी साझा करेंगी। हम इसे यहां अपने इस पेज पर अपडेट कर देंगे। इसलिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के आरंभ होने से संबंधित सभी जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहे।

यह भी पढ़े – उत्तराखंड रोजगार पंजीकरण 2021: UK Employment Registration, ऑनलाइन आवेदन

हम उम्मीद करते हैं की आपको उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *